NEFT Full Form क्या होती है? NEFT क्या होता है?

क्या आपको पता है कि NEFT Full Form क्या होती है? NEFT Full Form हिंदी में क्या होती है? या NEFT क्या होता है? या फिर NEFT कैसे करते है और NEFT काम कैसे करता है अगर नहीं, तो इस आर्टिकल में आपको एनईएफटी के बारे में तमाम जानकारी मिलेगी। जिन्हे पढ़कर आपके एनईएफटी को लेकर सभी सवाल खत्म हो जाएंगे।

इस आर्टिकल में मैं आपको बताऊंगा कि NEFT Full Form क्या होती है? NEFT Full Form In Hindi क्या होती है? NEFT क्या होता है? NEFT कैसे काम करता है? NEFT कैसे करते है? NEFT कैसे काम करता है? इसके साथ आपको NEFT के फायदे और नुक्सान बताऊंगा। साथ ही आपको NEFT की मुख्य जानकारी भी बताऊंगा।

NEFT Full Form क्या होती है?

NEFT Full की Form “National Electronic Funds Transfer” होती है। नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड्स ट्रांसफर एक इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर सिस्टम है जिसे RBI के द्वारा देखरेख किया जाता है।

NEFT Full Form In Hindi

NEFT की Full Form हिंदी में “राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर” होती है। यह एक इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर सिस्टम है, जो कि DNS (Deferred Net Settlement) पर आधारित है, जो batches में लेनदेन का निपटारा करता है।

NEFT क्या होता है?

NEFT एक बैंक से दूसरे बैंक में पैसे को इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफ़र करने की एक भारतीय प्रणाली है। इसे RBI यानी भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा पेश किया गया था। एनईएफटी फंड ट्रांसफर में भाग लेने के लिए बैंक शाखा को एनईएफटी enabled होना चाहिए। आमतौर पर एक खाते से दूसरे खाते में फंड ट्रांसफर करने में एक दिन लगता है।

neft full form

एनईएफटी भारत में बैंक ग्राहकों को एक आधार पर दो एनईएफटी enable बैंक खातों के बीच धनराशि स्थानांतरित करने में सक्षम बनाता है। यह इलेक्ट्रॉनिक मैसेजो के माध्यम से किया जाता है।

RTGS के विपरीत, NEFT प्रणाली के माध्यम से फंड ट्रांसफर वास्तविक समय के आधार पर नहीं होता है।

NEFT कैसे करते है?

NEFT दो प्रकार से किया जाता है एक Online और दूसरा Offline – आज मैं आपको दोनों तरीके को एक एक करके बताऊंगा।

Online NEFT कैसे करते है?

  • सबसे पहले आपको अपने फ़ोन या लैपटॉप में अपनी अपने बैंक की वेबसाइट को खोलना है। अगर आप एंड्राइड यूजर है तो आप उस बैंक का ऐप भी डाउनलोड कर सकते है।
  • इसके बाद आपको उसमें अपनी आईडी और पासवर्ड के द्वारा login करना है।
  • इसके बाद आपको Fund transder पर जाना है और beneficiary (यह वह होता है जिसे आप पैसे transfer करना चाहते है) को add करना है। add करने के लिए आपको उसके बैंक की कुछ डिटेल को डालना होगा। जैसे उसका नाम, बैंक का नाम, IFSC कोड आदि।
  • इसके बाद आपको fund transfer में जा कर payee को select करना है और फिर जितना आप पैसा ट्रांसफर करना चाहते है उतना आपको उसमें डालना है।
  • इसके बाद आपको payment option select करना है NEFT और फिर pay पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपकी payment initiate हो जाएगी। लेकिन इसमें तुरंत पैसे ट्रांसफर नहीं होंगे।

नोट: कुछ बैंक में तुरंत beneficiary add हो जाता है तो कुछ 30 से 60 मिनट का समय लेते है।

Offline NEFT कैसे करते है?

  • सबसे पहले आपको अपने बैंक जाना है जिसे बैंक से आप पैसे NEFT यानी पैसे transfer करना चाहते है।
  • उसके बाद आपको एक आवेदन पत्र भरना है जिसमें आपको beneficiary का नाम,बैंक, शाखा का नाम, IFSC, खाता का प्रकार (saving है या current), खाता संख्या और भेजी जाने वाली राशि का विवरण करना है।
  • इसके बाद आपको उस फॉर्म को बैंक बैंक जमा करना होता है।

NEFT कैसे काम करता है?

जब ग्राहक आवेदन पत्र को बैंक में सबमिट कर देता है तब मूल बैंक शाखा एक मैसेज तैयार करती है और मैसेज को अपने pooling center (जिसे NEFT सेवा केंद्र भी कहा जाता है) को भेजती है।

इसके बाद pooling center अगले उपलब्ध batch के लिए NEFT Clearing Center (National Clearing Cell, भारतीय रिजर्व बैंक, मुंबई द्वारा संचालित होती है) को मैसेज भेज देता है।

इसके बाद Clearing Centre, सारे funds के स्थानांतरण की लेनदेन को बैंक के लिहाज से sort करता है और मूल बैंकों से धन प्राप्त करने और destination बैंकों को धन देने के लिए entries तैयार करता है।

इसके बाद बैंक पैसे भजने वाले मैसेज को destination बैंकों को उनके पूलिंग सेंटर के माध्यम से भेजा जाता है।आखिर में destination बैंक Clearing Centre से मैसेज को प्राप्त करते है और लाभार्थी के ग्राहकों के खातों में क्रेडिट पर पास करती है।

NEFT के फायदे क्या होते है?

  1. NEFT के माध्यम से कोई भी फर्म, कारपोरेशन या व्यक्ति विशेष एक खाते से दूसरे खाते में बड़ी ही आसानी से पैसे ट्रांसफर कर सकते है।
  2. NEFT में beneficiary यानी पैसे रिसीव करने वाले को पैसे रिसीव करने के लिए बैंक जाने की जरुरत नहीं होती है।
  3. NEFT बिलकुल फ्री होता है।
  4. NEFT बहुत ज्यादा सुरक्षित होता है तो इसमें आपको पैसे transfer करते समय किसी भी बात से घबराने की जरुरत नहीं है।
  5. NEFT से आप 24 घंटे में कभी भी पैसे transfer कर सकते है।
  6. अगर आपसे किसी भी तरह की कोई गलती हो तो आप transaction को कैंसिल भी कर सकते है क्योंकि NEFT में पैसे transfer होने में थोड़ा टाइम लगता है तो इससे आप अपनी गलती को सुधर सके है।
  7. NEFT में भुगतान होने के बाद एसएमएस या ईमेल के द्वारा पुष्टि भी मिलती है जिससे भुगतान करने वालो को पता चल जाता है की भुगतान हो चूका है।

NEFT के नुक्सान क्या होते है?

NEFT का कोई खास नुक्सान नहीं है बस यह थोड़ा पुराना हो गया है आज IMPS और UPI का ज्यादा इस्तेमाल होता है हालांकि आज भी neft का खूब इस्तेमाल होता है दूसरा NEFT में तुरंत पैसे ट्रांसफर नहीं होते है। वही अगर आप IMPS, RTGS या UPI का इस्तेमाल करते है तो वहां तुरंत पैसे transfer हो जाते है।

NEFT करते समय किन किन बातो का ध्यान रखे?

NEFT इस्तेमाल करते है समय आपको बैंक की जिस बैंक में आप पैसा भेजना चाहते है उसकी सारी सही डिटेल डालनी है। गलत डिटेल डालने पर पेमेंट failed हो सकती है या किसी दूसरे के खाते में भी जा सकती है।

NEFT की मुख्य जानकारी क्या है?

  1. NEFT को नवंबर 2005 में शुरू किया गया था इसे इंस्टीट्यूट फॉर डेवलपमेंट एंड रिसर्च इन बैंकिंग टेक्नोलॉजी (IDRBT) द्वारा स्थापना और रखरखाव किया गया।
  2. 30 नवंबर, 2019 तक, एनईएफटी सुविधा देश भर में 216 बैंकों की 1,48,477 शाखाओं में उपलब्ध थी। इसके बाद एनईएफटी ने आसानी और दक्षता के कारण लोकप्रियता हासिल की है जिसके साथ लेनदेन पूरी हो सकती हैं।
  3. एनईएफटी का उपयोग करके स्थानांतरित की जा सकने वाली धनराशि की न्यूनतम या अधिकतम कोई सीमा नहीं है।
  4. कुछ बैंक एटीएम के माध्यम से एनईएफटी सुविधा भी प्रदान करते हैं।
  5. 216.71 मिलियन NEFT का लेनदेन सितंबर 2019 में ,7 44 ट्रिलियन (US 620 बिलियन) मूल्य के 661 मिलियन लेनदेन के साथ पूरे वर्ष 2013-15 के मुकाबले ,7 1,811,780।90 करोड़ (US $ 254.01 बिलियन) का लेनदेन हुआ।

निष्कर्ष

मुझे उम्मीद है की आपको NEFT Full Form और एनईएफटी के बारे में हमारा द्वारा दी गई तमाम जानकारी अच्छी लगी होगी। अगर फिर भी आपका एनईएफटी के बारे में कोई सवाल हो तो आप हमे निचे कमेंट करके पूछ सकते है।

यह भी पढ़े

RTGS Full Form क्या होती है? RTGS क्या होता है?

IMPS Full Form क्या होती है? IMPS क्या होता है?

UPI Full Form क्या होती है? UPI क्या होता है?

Spread the love

Leave a Comment